Tuesday, August 20, 2013

रक्षा बंधन की शुभ कामनाएं ....

1-रक्षाबन्धन

आज सुबह मेल खोली तो आदरणीय रामेश्वर काम्बोज 'हिमांशु' जी की  ये मेल आई हुई थी … 
परम प्रिय बहन !
आज के दिन आपको रक्षाबन्धन की विशेष  शुभकामनाएँ !
आपका जीवन प्रतिपल सुखमय हो !
1
भले दो तन
पावन एक मन
भाई -बहन ।
2
आँच न आए
जीवन में ज़रा-सी
भाई की दुआ ।
-0-
सम्मान और स्नेह के साथ
आपका भाई
रामेश्वर काम्बोज हिमांशु

वे मुझे बहन तो कहते थे पर इस तरह इतना मान देंगे सोचा न था.…. उन्हीं को समर्पित ये चंद  हाइकु   …….


(१)


भेजा है धागा
बाँध कलाई पर
मान रखना 

(२)

धागा नहीं ये
पावन से रिश्ते में
प्यार बाँधा है 

(३)
छूटे न कभी
रिश्ता ये तेरा मेरा
नेह से भरा 

(४)

तेरी दुआ से
दर्द से लड़ने का
बाँधा साहस 

(५)
लम्बी उम्र की
दुआ है बहना की
भईया मेरे 



हीर  …

27 comments:

ताऊ रामपुरिया said...

बहुत ही सुंदर सामयिक हाइकू, हार्दिक शुभकामनाएं.

रामराम.

रामराम.

अनुपमा पाठक said...

ये परस्पर स्नेह बना रहे!

कालीपद "प्रसाद" said...

बहुत ही सुंदर हाइकू
आपको भी रक्षा बंधन की बहुत बहुत शुभकामनाएं latest post नए मेहमान

महेन्द्र श्रीवास्तव said...

बहुत सुंदर
सामयिक प्रस्तुति
रक्षाबंधन की ढेर सारी शुभकामनाएं

ANULATA RAJ NAIR said...

नेह से भीगी रचनाएं पढ़ कर अच्छा लगा...
आप दोनों को ढेर सारी शुभकामनाएं..

सादर
अनु

मेरा मन पंछी सा said...

आप दोनों का स्नेह यूँ ही बना रहे...
बहुत सुन्दर रचना....
रक्षा बंधन के पावन पर्व पर आपको शुभकामनाएँ..
:-)

संजय भास्‍कर said...

बहुत सुंदर

रक्षाबंधन की ढेर सारी शुभकामनाएं !!!!

देवेन्द्र पाण्डेय said...

आदरणीय रामेश्वर काम्बोज 'हिमांशु' जी के हाइकू का एक प्रशंसक मैं भी हूँ। आपने इन दो हाइकू के साथ अपना स्नेह लिखकर इस पोस्ट में चार चाँद लगा दिया।..बहुत बढ़िया।

भाई-बहन को ढेर सारी शुभकामनाएं।

दिगम्बर नासवा said...

सुन्दर ओर सामयिक हाइकू ..,
भाई बहन के अनूठे प्रेम बंधन में बंधे .. लाजवाब प्रस्तुति ... इस पर्व की ढेरों शुभकामनायें ...

सदा said...

शब्‍दश: स्‍नेहयुक्‍त पंक्तियाँ भावविभोर करती हुईं ...
अनुपम प्रस्‍तुति

Maheshwari kaneri said...

बहुत सुन्दर ,भाई बहन का ये प्यार फलता फूलता रहे
रक्षाबंधन की हार्दिक शुभकामनाएँ!!!!!!!!

Rajendra kumar said...

बहुत ही सुंदर,रक्षा बंधन की हार्दिक बधाई व शुभकामनाएँ !

डॉ टी एस दराल said...

राखी के पावन अवसर पर सुन्दर हाइकु।
शुभकामनायें जी.

ashokkhachar56@gmail.com said...

वाह.. बहुत सुन्दर .वाह.. बहुत सुन्दर रचना.

Ramakant Singh said...

सुंदर सामयिक हाइकू, हार्दिक शुभकामनाएं********

Unknown said...

सुन्दर ,सरल और प्रभाबशाली रचना। बधाई। कभी यहाँ भी पधारें।
सादर मदन
http://saxenamadanmohan1969.blogspot.in/
http://saxenamadanmohan.blogspot.in/

संगीता स्वरुप ( गीत ) said...

स्नेह दोनों का
बना रहे सदैव
यही है दुआ ।


बहुत सुंदर हाइकु

Ramakant Singh said...

भाई बहन के रिश्तों की डोर का अटूट बंधन हार्दिक शुभकामनाएं.

sushmaa kumarri said...

बहुत ही खुबसूरत और प्यारी रचना.....

Tamasha-E-Zindagi said...

आपकी आज कि यह पोस्ट बुधवार, २१ अगस्त २०१३ के ब्लॉग बुलेटिन - राखी कि शुभकामनाओं पर प्रकाशित की जा रही है | हार्दिक बधाई |

हरकीरत ' हीर' said...

आभार तुषार जी ....!!

Dr. Shorya said...

बहुत ही सुंदर हाइकू
राखी की ढेरो शुभकामनाये

यहाँ भी पधारे

असफल प्रयास

प्रतिभा सक्सेना said...

भाई-बहिन का नेहभाव
यों ही सदा बना रहे !

Sadhana Vaid said...

बहुत ही सुंदर सार्थक एवँ भावपूर्ण हाईकू हैं हीर जी ! रक्षाबंधन की हार्दिक शुभकामनायें !

प्रवीण पाण्डेय said...

बहुत ही सुन्दर हाइकू, रक्षाबन्धन की शुभकामनायें।

Anju (Anu) Chaudhary said...

bahut khub

नादान उम्मीदें said...

kuch likha h,,thoda samay nikalkr padhe,or margdarshan de....nadaanummidien.blogspot.com